कौशाम्बी : जहां एक तरफ सरकार बेटी बचाओ – बेटी पढ़ाओ आदि का नारा देने का काम कर रही है तो दूसरी ओर इसके उलट बेटियों पर लगातार अत्याचार की बातें भी सामने आती दिखाई पड़ रही हैं। इसी क्रम में एक और नाबालिग बेटी के साथ दरिंदगी का मामला सामने आया है। जनपद के सराय अकिल थाना क्षेत्र के घोसिया गांव के बाहर खेत की तरफ अकेली दलित युवती को किसी कार्य से जाते देख वहां पहले से मौजूद दरिंदो ने मानवता की सारी हदे पार करते हुए दलित युवती के ऊपर भूखे भेड़िए की तरह टूटते हुए गैंगरेप को अंजाम दिया। उन दरिंदो के आगे हाथ पैर जोडती रही लड़की लेकिन हवस के नशे में चूर दरिंदो को जरा सा भी तरस ना आई। ऐसे में आस-पास के खेतो में काम कर रहे लोगो के कानों तक जैसे ही युवती के चीखने की आवाज पहुची तो लोगो ने मदद के लिए दौड़ लगाई तभी लोगो को अपनी ओर आते देख लड़की को छोड़ भागने लगे बाकी रेपिस्ट तो भागने में सफल हुए लेकिन एक रेपिस्ट को लोगो ने दौड़ाकर पकड़ने में सफलता हासिल की और सराय अकिल थाना को सौप कड़ी से कड़ी कार्यवाही की मांग की।
जैसे ही रेप की घटना युवती के परिजन व ग्रामीण लोगो ने सुनी उनके होश उड़ गए और इस घटना से उग्र हुए लोग काफी मात्रा में एकत्रित होकर सराय अकिल थाना का घेराव कर मांग किया है कि भागे हुए अन्य सभी रेपिस्टों को जल्द से जल्द पुलिस गिरफ्तार कर जेल की सलाखों के पीछे कर इन दरिंदो के साथ कड़ी से कड़ी सजा दी जाय ताकि भविष्य में किसी के साथ भी ऐसी घटना ना घटित हो और रेप से पीड़ित युवती को सही मायने में न्याय मिल सके। अब देखना यह जरूरी होगा कि ग्रामीण लोगो की चंगुल से बच निकले रेपिस्ट को कौशाम्बी पुलिस कितने दिनों के अंदर गिरफ्तार करने में सफल होती है?

रिपोर्टर – वरुण त्रिपाठी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here