Home हमारा प्रदेश तेरह सूत्रीय मांगों को लेकर मनरेगा कर्मचारी संघ ने किया अनशन

तेरह सूत्रीय मांगों को लेकर मनरेगा कर्मचारी संघ ने किया अनशन


– सीडीओ के माध्यम से मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन
फतेहपुर:
मनरेगा कर्मियों की सेवा सम्बन्धी समस्याओं के लम्बित होने पर सोमवार को उत्तर प्रदेश मनरेगा कर्मचारी संघ के बैनर तले कर्मियों ने कार्य से विरत रहकर जिला मुख्यालय पर अनशन किया तत्पश्चात मुख्य विकास अधिकारी के माध्यम से तेरह सूत्रीय ज्ञापन मुख्यमंत्री को भेजकर सभी मांगों को पूरा किये जाने की आवाज बुलन्द की।
महासंघ के जिलाध्यक्ष आदित्य सिंह की अगुवई में मनरेगा कर्मियों ने कार्य से विरत रहकर जिला मुख्यालय पर अनशन किया। तत्पश्चात मुख्यमंत्री को सम्बोधित तेरह सूत्रीय ज्ञापन मुख्य विकास अधिकारी को सौंपकर बताया कि बिना पदों के सृजन किये ही जेम पोर्टल से नियुक्तियां किया जाना तथा प्रशासनिक मद से सेवा प्रदाता का भुगतान किया जाना गम्भीर वित्तीय अनियमितता है, इसलिए जेम पोर्टल को तत्काल प्रतिबन्धित किया जाना योजना हित में आवश्यक है। पूर्व में कार्यरत मनरेगा कर्मियों के पदों को सृजित कर पदों की निरंतरता बनाये रखते हुए सभी कर्मियों का समायोजन किया जाना कर्मचारी व योजना हित में आवश्यक है। दिवंगत मनरेगा कर्मियों के पारिवारीजनों को योग्यतानुसार योजना के रिक्त पदों पर मानवीय दृष्टिकोण के अनुसार नियुक्त किया जाना इन परिवारीजनों के भविष्य के हितार्थ रहेगा। ग्राम पंचायत स्तर पर महिला की वर्तमान तैनाती निरस्त करके नियमानुसार ग्राम पंचायत को चयन का अधिकार दिया जाये और इनके जाब चार्ट में संशोधन किया जाये, मनरेगा संविदा कर्मियों को ईपीएफ ईएसआईसी एवं अन्य सामाजिक सुरक्षा के लाभ दिये जायें तथा एचआर पालिसी एवं तबादला नीति लागू की जाये। इसके अलावा अन्य मांगे भी शामिल रहीं। इस मौके पर पुष्पेन्द्र सिंह, मो0 महताब अनवर, रोहित गुप्ता, प्रकाश सिंह, राम सिंह, अरविन्द सिंह, मो0 तौसीफ, ज्योति गुप्ता, शिव प्रताप मौर्य, रवीन्द्र सिंह, पवन कुमार, लालू प्रसाद यादव, दिनेश सिंह, रोहित आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read