– हनुमान मंदिर पटेलनगर चौराहे के पीछे जमीन का मामला

– भाजपा जिलाध्यक्ष बोले प्रदेश अध्यक्ष को मामले से करायेंगे अवगत

– निर्माणाधीन स्थल पर धरने में बैठे हिन्दू महासभा के पदाधिकारी।

फतेहपुर: शहर के पटेलनगर चौराहा स्थित हनुमान मंदिर के पीछे खाली पड़ी सरकारी जमीन पर भारतीय जनता पार्टी कार्यालय का निर्माण कार्य शुरू होने पर हिन्दू महासभा ने नाराजगी का इजहार करते हुए धरना दिया। धरने पर बैठे महासभा के पदाधिकारियों का कहना रहा कि भाजपा सत्ता के नशे में चूर हो गयी है। इस जमीन पर पार्टी के पट्टे को उच्च न्यायालय ने पूर्व में ही निरस्त कर दिया था। मामले की जानकारी होने पर भाजपा जिलाध्यक्ष आशीष मिश्रा मौके पर पहुंचे और प्रदेश अध्यक्ष को मामला अवगत कराये जाने की बात कही। जिस पर धरना समाप्त हो गया।
बताते चलें कि पटेलनगर चौराहा स्थित हनुमान मंदिर के पीछे बीस गुणे बीस फीट का एक प्लाट पड़ा हुआ है। इस प्लाट का पट्टा नगर पालिका परिषद की पूर्व चेयरमैन राजकुमारी लोधी ने भाजपा कार्यालय बनाये जाने के लिए पार्टी के लिए किया था। तब से यह प्लाट खाली पड़ा हुआ है। इस प्लाट को सिद्ध श्री संकट मोचन हनुमान मंदिर अपने उपयोग में लेता चला आ रहा था। इस प्लाट पर मंगलवार से भाजपा कार्यालय का निर्माण कार्य शुरू हो गया। जैसे ही यह जानकारी अखिल भारत हिन्दू महासभा के प्रान्तीय महामंत्री मनोज त्रिवेदी को हुयी तो वह मौके पर पहुंचे और निर्माण कार्य का विरोध दर्ज कराते हुए कार्यकर्ताओं के साथ धरना शुरू कर दिया। धरने पर बैठे श्री त्रिवेदी का कहना रहा कि इस प्लाट पर मंदिर में भंडारा होने पर प्रसाद आदि बनता है। बरगद, पीपल फूल आदि के पेड़ भी लगे हुए हैं। मंदिर का पश्चिमी द्वार भी यहां खुलता है। उन्होने बताया कि उक्त जमीन का सरकारी अभिलेखों में खाता सं0 169 है जो नगर पालिका के अन्तर्गत आबादी के नाम दर्ज है। उक्त जमीन में भारतीय जनता पार्टी सत्ता के मद में चूर होकर कार्यालय का निर्माण कर रही है। जबकि उच्च न्यायालय द्वारा पूर्व में सभी पट्टे निरस्त कर दिये गये हैं। आज सत्ताधारी दल द्वारा मंदिर की पश्चिमी बाउण्ड्री को तोड़कर छत विक्षत कर दिया गया। जिससे महासभा में बेहद नाराजगी है। जल्द ही इस मामले को लेकर राज्यपाल को ज्ञापन भेजा जायेगा। उधर मामले की जानकारी होने पर भाजपा जिलाध्यक्ष आशीष मिश्रा मौके पर पहुंचे और उन्होने विरोध को देखते हुए फिलहाल काम रूकवा दिया। उनका कहना रहा कि प्रदेश अध्यक्ष को मामले की जानकारी दी जायेगी। प्रदेश नेतृत्व द्वारा जो निर्देश दिया जायेगा उस पर अमल किया जायेगा। धरना देने वालों में डा0 प्रमोद कुमार पाण्डेय, शिवाकांत तिवारी, संतोष नेता, राजेन्द्र कुमार, शंकरलाल, गोरेलाल, शशिकांत मिश्रा, प्रदीप तिवारी, नरेन्द्र सिंह, स्वामी राम असरे आर्य, श्रवण कुमार श्रीवास्तव आदि मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here