नवरात्रि पर्व पर आयोजित रामकथा सुनकर लोग हुए मंत्रमुग्ध, भगवान की झांकी का हुआ प्रदर्शन

कौशाम्बी : सिराथू तहसील के अंतर्गत आने वाले दौलतपुर कसार में नवरात्रि के पावन पर्व पर राम कथा का आयोजन हुवा। इस कथा में गांव सहित अन्य दूसरे गांव से आये भक्तों ने राम कथा एवं भगवान शिव शंकर, माता पार्वती सहित अन्य की झांकी का भी आनंद लिया। बताते चलें कि श्रीराम कथा को विश्वविख्यात कथा वाचिका रुचिका रामायणी ने अपने श्रीमुख से संबोधित करते हुए लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। अपने कथा वाचन के माध्यम से कथा वाचिका श्रीमती रुचिका रामायणी ने भक्तजनों को बताया कि श्रीराम कथा एक आदर्शवादी पुरुष बनने की प्रेरणा भी है। आगे उन्होंने बताया कि श्रीराम चरित मानस के श्रवण मात्र से समाज मे फैली बुराइयों का नाश होता है। साथ ही कहा कि भगवान श्री राम हमारे आदर्श है एवं उनके पद चिन्हों का अनुसरण कर हम देश व समाज को उचाईयों पर ले जाकर रामराज्य पुनः ला सकते हैं। साथ ही कथा के माध्यम के रामायण का पाठ भी पढ़ा व उसी के माध्यम से उपस्थित लोगों को वास्तविक जीवन में रामायण की बातों को अपनाकर आदर्श बनने का प्रोत्साहन करते हुए देश व समाज मे फूली कुरीतियों को भी समाप्त करने का संकल्प भी कराया।
इस दौरान सैकड़ो की संख्या में उपस्थित लोगो ने कथा वाचिका के मुखार बिंदु की प्रशंसा करते हुए श्रीराम द्वारा स्थापित किये गए आदर्शों पर चलने का संकल्प भी लिया। कार्यक्रम में कथा वाचिका द्वारा विस्तार से प्रारम्भ हुई राम कथा के साथ ही साथ छोटे बालक एवं बालिकाओं द्वारा भगवान शिव शंकर, माता पार्वती व अन्य की सुन्दर – सुन्दर झांकी का भी आयोजन हुवा, इन झांकियो को देखते ही लोगो का मन गदगद हो गया। राम कथा के स्रोताओं ने मन लगाकर कथा का आनंद लिया और वही व्यास श्रीमती रामायणी ने बताया कि कभी भी कथा का अपमान नहीं किया जाता। साथ ही लोगो को शिव जी के बारे में भी विस्तार से व्याख्यान किया। उन्होंने बताया कि ये श्रीराम कथा नवरात्रि के पावन पर्व पर नौ दिन तक चलेगी।

रिपोर्टर – विकास कुमार गौतम / वजीम सलमानी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here